First National News

बिहार कैबिनेट का फैसला: नया जेट विमान और हेलीकॉप्टर खरीदेगी नीतीश सरकार, 1,674 नौकरियां पैदा करने की योजना

पटना। मुख्य सचिवालय के कैबिनेट कक्ष में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में 7 योजनाओं को मंजूरी दी गई. एक महत्वपूर्ण निर्णयकर्ता होने के नाते, राज्य सरकार ने नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के लिए नए हेलीकाप्टरों और जेट विमानों की खरीद के लिए एक उच्च स्तरीय समिति के गठन के लिए अपना समर्थन दिया। महासचिव की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया जायेगा; इसके अलावा विभिन्न विभागों के वरिष्ठ सचिव सदस्य के रूप में भाग लेंगे।

बता दें कि पहले ही राज्य सरकार का एक हेलीकॉप्टर क्षतिग्रस्त हो गया था। वर्तमान में राज्य सरकार हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल कर्ज पर करती है। कंपनी सचिवालय विभाग के अतिरिक्त सचिव सिद्धार्थ ने कंपनी के फैसले के बारे में बताते हुए कहा कि हेलीकॉप्टर और 10-12 सीटर विमान खरीदने का फैसला किया गया है. इसके अलावा सरकारी एजेंसी ने शिक्षा विभाग के क्षेत्रीय कार्यालयों में लिपिकीय कर्मचारियों के लिए 1674 पद सृजित करने की भी सिफारिश की है। इसके साथ ही उद्योग विभाग की तीन महत्वपूर्ण पहलों को भी उद्योग की मंजूरी मिल गई है।

ऐसे में टेक्निकल टेक्सटाइल के लिए भगवानपुर में एक फैक्ट्री बनाई जाएगी। इस संबंध में सरकारी एजेंसी ने 44 करोड़ 28 लाख की राशि को अपना सहयोग दिया है। इस संबंध में नालंदा और मुजफ्फरपुर में एथनॉल यूनिट लगाई जाएगी और इस क्षेत्र के विकास में सरकारी एजेंसी ने नालंदा को 96 करोड़ 92 लाख, मुजफ्फरपुर को 135 करोड़ 62 लाख का सहयोग दिया है. इसके अलावा नीतीश की कंपनी ने निर्माण कंपनी के निदेशक अनिल कुमार का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ा दिया है. अनिल कुमार 31 दिसंबर को सेवानिवृत्त हुए।

नीतीश कैबिनेट ने भवन निर्माण विभाग और राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र यानी एनआईसी पटना के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने का फैसला किया है. इसका उद्देश्य निर्माण के क्षेत्र के तहत आवास और रियल एस्टेट कर में ऑनलाइन परियोजना प्रबंधन सूचना प्रणाली उपलब्ध कराना है, जैसे रखरखाव, परिवर्तन, तकनीकी सुधार और मौजूदा कंपनी की सूचना प्रबंधन सेवाओं के विस्तार के विभिन्न उपयोग। शिक्षा क्षेत्र के कार्यालय क्षेत्र में कार्य करने वाले सचिवों के संवर्ग की संरचना

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Translate »